Category: Religious tales

know epic chitrakoot history

जानिए तीर्थ नगरी चित्रकूट की पौराणिक एवं धार्मिक गाथा

भारत तीर्थों का स्थल है। जहाँ भिन्न भिन्न जगहों पर भिन्न भिन्न तीर्थ स्थल है। जहाँ उत्तर में हिमालय, कैलाश पर्वत, अमरनाथ शिवलिंग, माँ वैष्णों देवी, स्वर्ण मंदिर, केदार नाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, हरिद्वार, मथुरा,...

pradosh vrat katha

18 मार्च 2019 को है प्रदोष व्रत,जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास

pradosh vrat katha वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह के दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। तदनुसार, फाल्गुन माह में शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी 18 मार्च...

pradosh vrat katha story

प्रदोष व्रत की कथा एवं इतिहास

वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह के दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। तदनुसार, पौष माह की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी शनिवार 30 दिसंबर 2017 को...

Paush Amavasya vrat atha

5 जनवरी 2019 को है पौष अमावस्या, जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास

हिंदी पंचांग के अनुसार इस वर्ष का पौष अमावस्या सोमवार 5 दिसंबर  2019 को है। हिन्दू धर्म में अमावस्या तथा पूर्णिमा का विशेष महत्व है। धार्मिक ग्रंथो के अनुसार इस दिन स्नान, दान तथा अन्य धार्मिक...

devotional labh panchami vrat katha

12 नवंबर 2018 को है लाभ पंचमी,जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार कार्तिक माह की शुक्ल पक्ष की पंचमी को लाभ पंचमी मनाई जाती है। तदनुसार इस वर्ष 12 नवंबर 2018 के दिन लाभ पंचमी मनाई जाएगी। इस दिन भगवान शिव जी एवम...

know mirabai life story

24 अक्टूबर 2018 को है मीराबाई जयंती,जानिए मीराबाई जी की जीवनी

कृष्ण भक्त और कवियत्री मीराबाई का जन्म राजस्थान, जोधपुर के मेड़ता परिवार में 1504 ई में हुई थी। इनके पिता जी का नाम रतन सिंह था जो मेड़ता महाराज के छोटे भाई थे। मीराबाई...

devotional sharad purnima history

5 अक्टूबर 2017 को है शरद पूर्णिमा जानिए व्रत की कथा एवम इतिहास

हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन माह की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहते है। इस पूर्णिमा को कोजगरा पूर्णिमा अथवा रास पूर्णिमा भी कहा जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शरद पूर्णिमा की रात्रि में...

devotional margshirsh purnima story 1

शुक्रवार 3 दिसंबर 2018 को अगहन पूर्णिमा है, जानिए कथा एवं इतिहास

शुक्रवार 3 दिसंबर 2018 को अगहन पूर्णिमा है .गीता उपदेश में भगवान श्री कृष्ण जी ने कहा, महीनो में मैं पवित्र महीना मार्गशीर्ष हूँ। अतः मार्गशीर्ष या अगहन माह अति पावन माह है। मार्गशीर्ष...

2

माँ ज्वालाधाम उचेहरावाली की कथा एवं इतिहास history and story of ma jwaladham uchehra

माँ ज्वालाधाम उचेहरा, मध्यप्रदेश मध्यप्रदेश राज्य के उमरिया जिला अंतर्गत नरौजाबाद रेलवे स्टेशन से 4 किलोमीटर उत्तर में स्थित माँ ज्वाला उचेहराधाम शक्ति पीठ विराजमान है जो ना केवल मध्यप्रदेश बल्कि पुरे भारत वर्ष...

0

संकष्टी चतुर्दशी की कथा एवं इतिहास history of sankashti chaturdashi

संकष्टी चतुर्दशी की कथा  एवं इतिहास सोमवार 28 दिसंबर 2015 धार्मिक धारणा है की हिन्दू धर्म में भगवान श्री गणेश की पूजा से प्रत्येक शुभ कार्य आरम्भ किया जाता है।  भगवान गणेश जी को विघ्नहर्ता भी...

0

दीपावली आ रही है आईये जाने माता लक्ष्मी व गणेश जी को कैसे खुश करें how to pray mata lakshmi and ganesh in dipawali

दीपावली आ रही है आईये जाने माता लक्ष्मी व गणेश जी को कैसे खुश करें how to pray mata lakshmi and ganesh in dipawali

history-and-importance-of-chaitra-amavsya 0

अगहन मार्गशीर्ष अमावस्या इतिहास history-and-satory-of-agahan-or-margshish

अगहन या मार्गशीर्ष अमावस्या हिंदी  पंचांग  के  अनुसार  इस  वर्ष  का  मार्गशीर्ष  अमावस्या  ११  दिसंबर  को  है।  मार्गशीर्ष  अमावस्या का महत्व कार्तिक अमावस्या से कम नहीं है। ऐसा माना गया है की मार्गशीर्ष अमावस्या...

1

मासिक शिवरात्रि का महत्व एवं इतिहास history and story of masik maha shivratri

हिन्दू धर्म में  मासिक शिवरात्रि का भी विशेष महत्व है। जहाँ वर्ष में एक महाशिवरात्रि मनाया जाता है वही वर्ष के प्रत्येक महीने में एक मासिक  शिवरात्रि मनाया जाता है। मासिक शिवरात्रि या महाशिवरात्रि...

0

महाष्टमी या मासिक दुर्गाष्टमी का महत्व एवं इतिहास history and story of durga ashtmi

मासिक दुर्गाष्टमी हिन्दू धर्म में दुर्गापूजा और दुर्गाष्टमी का बड़ा महत्व है। दुर्गापूजा आश्विन माह में मनाया जाता है जबकि मासिक दुर्गाष्टमी प्रत्येक माह में शुक्ल पक्ष की अष्टमी को होती है। इसे मासिक...

know gurunanakdev life story 0

गुरुनानक जयंती का महत्व एवं इतिहास. gurunanak jayanti history and story

गुरु नानक जी (पंजाबी: ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ) (15 अप्रैल 1469 – 22 सितंबर 1539)  सिख धर्म के प्रथम गुरु (आदि गुरु ) तथा सिख धर्म के संस्थापक  है। गुरु नानक जी जिन्हे लोग गुरु जी,...

0

देवोत्थान एकादशी या देवउठान एकादशी या ‘प्रबोधिनी एकादशी’ history-of-devuthan-ekadashi-ka-itihas

कार्तिक, शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवोत्थान एकादशी कहते हैं। दीपावली के ११ वें दिन आने वाली  इस एकादशी को देव उठान एकादशी या ‘प्रबोधिनी एकादशी’ भी कहा जाता है। ऎसी मान्यता है की...

0

नवरात्री दुर्गा पूजा की सुरुआत Navratre, Durga puja first shailputri start 1 October 2016

मां शैलपुत्री, नवरात्रे में प्रथम पूजा अर्थात पहले दिन की पूजा मां चंद्रघंटा के रूप में किया जाता है। माँ शैलपुत्री प्रथम दिन माँ शैलपुत्री की पूजा से नवरात्री दुर्गा पूजा की सुरुआत की...

0

यह सप्ताह कैसा रहेगा, क्या कहता है आपका राशिफल। what-say-horoscope-weekly-astrology-and-lal-kitab

मेष राशि- मेष राशि- वालों आपके लिए यह सप्ताह बहुत अच्छा रहने वाला है, बहुत कष्ट झेल लिए आखिर कबतक ऐसी जिंदगी जिए, कभी कभी ये भावना आती है आपके मनमें , सही आती...

devotional jaharveer googaji history 0

जाहरवीर गोगाजी महाराज की कथा एवं इतिहास

गोगाजी महाराज (सिद्धनाथ वीर गोगादेव)  राजस्थान के लोकप्रिय देवता हैं। उन्हें जाहरवीर गोगाजी के नाम से भी जाना जाता है । राजस्थान में हनुमानगढ़ जिले का गोगामेड़ी शहर है यहां भादव शुक्लपक्ष की नवमी...