Category: तीर्थ यात्रा

It is in india where Pilgrimage is the popular part of hindu religion. Everyone wants to go on Pilgrimage. It can be amarnath Pilgrimage. know hindu Pilgrimage

it can be char dham Pilgrimage.There are so many Pilgrimage site. we are telecasting the live on Pilgrimage. people who wants to go on amarnath yatra, they can contact us.

amarnath yatra know hindu Pilgrimage

we will provide all the requirement. we also book online puja service. hindumytholgy.org provide the services of pilgrimage. Every year Indian people go on Pilgrimage site .

We are covering and making documentary movie on Pilgrimage.You can watch Pilgrimage based documentary on our site. We know the value of Pilgrimage. So we provide the entire thing about Pilgrimage related detail. know hindu Pilgrimage place

devotional jaharveer googaji history 1

जाहरवीर गोगाजी महाराज की कथा एवं इतिहास

गोगाजी महाराज (सिद्धनाथ वीर गोगादेव)  राजस्थान के लोकप्रिय देवता हैं। उन्हें जाहरवीर गोगाजी के नाम से भी जाना जाता है । राजस्थान में हनुमानगढ़ जिले का गोगामेड़ी शहर है यहां भादव शुक्लपक्ष की नवमी...

0

माँ कामयख्या देवी मंदिर का इतिहास history-of-maa-kamaykya devi temple

51 शक्तिपीठों में प्रमुख स्थान रखने वाली माँ कामयख्या देवी का मंदिर बेहद खूबसूरत और अपनी एक अलग संस्कृति को लिए हुए भारत वर्ष के पर्वोत्तर में स्थित है। इस मंदिर की महत्वता की...

0

जानिये यमुनोत्री का इतिहास history-of-yamunotri

यमुनोत्री मंदिर गढ़वाल हिमालय के पश्चिम में समुद्र तल से 3235 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। हिंदू भगवान यम के साथ हिंदू देवी यमुना की एक मूर्ति मंदिर में विराजमान है। यम को...

0

बद्रीनाथ मंदिर का इतिहास history-of-badrinatha-mandir

बदरीनाथ मंदिर , जो बदरी नारायण मंदिर नाम से भी जाना जाता है , वह अलकनंदा नदी के किनारे उत्तराखंड राज्य में स्थित है। यह मंदिर भगवान विष्णु के रूप बदरीनाथ को समर्पित है।...

0

सीता जन्मभूमि स्थान पुनोडा सीतामढी का इतिहास history-of-sita-mata-janmabhumi-sthana-punoda-sitamadhi

सीतामढी जो कभी सीता मड़ई और सीता मई या मयी कहलाती थी। कहा जाता है की जगत जननी माता जानकी का जन्म या प्रकाट्य इसी स्थान में हुआ था। प्राचीन काल में यह मिथिला...

0

पापहरणी लक्ष्मी नारायण मंदिर का इतिहास history-of-papaharani-laksmi-narayaṇa-mandira

पापहरणी लक्ष्मी नारायण मंदिर, बिहार प्रान्त के बांका जिला अंतर्गत बौंसी नगर में स्थित है जो प्रसिद्ध मंदार पर्वत की तराई में अस्थित है। पर्वत के तराई में स्थित यह पावन पवित्र तालाब अपने...

0

मधु सूदन मंदिर बौंसी का इतिहास history-of-madhu-sudana-mandira-baunsi

बांका जिला अंतर्गत मन्दार गिरी के मध्य भाग में मनोरम प्राकृतिक वातावरण में बसा मधु सूदन मंदिर आदि काल से श्रद्धा और आस्था का केंद्र बना हुआ है। मार्कण्डेय पुराण , दुर्गा सप्तसती के...

0

केदारनाथ चार धाम का इतिहास history-kedarnath-chardham-yatra

केदारनाथ की कथा प्राचीन काल से चली आ रही है। हिमालय शिव को सदा ही प्रिय रहा है। जिस प्रकार से केदार की घाटी अपनी मनोरम छटा बिखेरती है ठीक उसी प्रकार से यह...

0

चार धाम यात्रा का इतिहास history-of-char-dhama-yatra

1. उत्तराखंड के चार धाम – उत्तराखंड के चार प्रमुख धामों में सबसे पहली यात्रा जो सूचि में आती है वह हैं यमुनोत्री ,दूसरी हैं गंगोत्री ,तीसरे हैं केदारनाथ और चौथे बद्रीनाथ। हिमालय की...

रघुनाथ मंदिर का इतिहास 0

रघुनाथ मंदिर का इतिहास

          रघुनाथ मंदिर कुल्लू की जैसी प्राकृर्तिक छटा है वैसी ही अद्धभुत इनकी कथा और उससे भी बड़ी इनकी दुख भड़ी व्यथा है। हिमाचल के कुल्लू प्रदेश के खूब सूरत...