list of festival in February

धार्मिक धारणा है की हिन्दू धर्म में भगवान श्री गणेश की पूजा से प्रत्येक शुभ कार्य आरम्भ किया जाता है। भगवान गणेश जी को विघ्नहर्ता भी कहा जाता है। सनातन धर्म में 24 दिन ऐसे होते है

धार्मिक मान्यताओ के अनुसार फाल्गुन माह में कृष्ण पक्ष की पंचमी को यशोदा जयंती मनाई जाती है। तदनुसार, मंगलवार 6 फरवरी 2018 को यशोदा जयंती मनाई जाएगी।

वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह में कृष्ण पक्ष की अष्ठमी को कालाष्टमी मनाई जाती है। तदनुसार, बुधवार 7 फरवरी 2018 को कालाष्टमी है। कृष्ण पक्ष की अष्टमी को कालाष्टमी या भैरवाष्टमी के रूप मनाया जाता है।

त्रेतायुग के साक्ष्य अनुसार फाल्गुन माह में कृष्ण पक्ष की नवमी को शबरी जयंती मनई जाती है। तदनुसार, बुधवार 7 फरवरी 2018 को शबरी जयंती मनाई जाएगी। शबरी भगवान राम की जन्म से भक्त थी

फाल्गुन माह में कृष्ण पक्ष की नवमी को जानकी जयंती मनाया जाता है। तदनुसार, गुरुवार 8 फरवरी 2018  को सीता माँ की जयंती सम्पूर्ण भारत में उत्साह तथा श्रद्धा से मनाई जाएगी। धार्मिक ग्रंथो के अनुसार इस दिन सीता माँ का जन्म हुआ था।

महर्षि स्वामी दयानंद सरस्वती जन्म 12 फरवरी 1824 आर्य समाज के संस्थापक महर्षि स्वामी दयानंद सरस्वती जी का जन्म 12 फरवरी 1824 ई को गुजरात राज्य के राजकोट शहर स्थित रियासत मोरवी

वेदो, पुराणो तथा शास्त्रो के अनुसार एकादशी व्रत का हिन्दू धर्म में महत्वपूर्ण स्थान है। शास्त्रो के अनुसार वर्ष में 24 एकादशी व्रत पड़ता है जबकि मलमास में 26 एकादशी व्रत पड़ता है।विजया एकादशी को करने से व्रती हर क्षेत्र में विजय प्राप्त होता है।

वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह के दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। तदनुसार, फाल्गुन माह में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी गुरुवार 13 फरवरी 2018 को प्रदोष व्रत मनाया जाएगा। 

फाल्गुन माह की अमावस्या को वर्ष 2018 का सूर्य ग्रहण पड़ेगा। तदनुसार, गुरूवार 15 फरवरी 2018 को सूर्य ग्रहण पड़ेगा। भौतिक विज्ञानं की दृस्टि से जब पृथ्वी और सूर्य के बीच में चन्द्रमा आ जाता है तो चन्द्रमा के कारण सूर्य की ज्योति ढक जाती है।

फाल्गुन अमावस्या धार्मिक मान्यताओ के अनुसार योग पर आधारित व्रत है और इस दिन पवित्र नदियों और संगमो में देवताओ का निवास होता है। अतः इस दिन गंगा, यमुना और सरस्वती स्नान का अति विशेष महत्व है।

भारत के महान संत एवम आधुनिक काल के महान विचारक रामकृष्ण परमहंस जी का जन्म फाल्गुन माह में 18 फरवरी 1838 ई को बंगाल राज्य के कामारपुकुर में हुआ था। 

धार्मिक धारणा है की हिन्दू धर्म में भगवान श्री गणेश की पूजा से प्रत्येक शुभ कार्य आरम्भ किया जाता है। भगवान गणेश जी को विघ्नहर्ता भी कहा जाता है। 

तमिल पंचांग के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह में मासिक कार्तिगाई मनाया जाता है। तदनुसार, फरवरी माह में रविवार22 फरवरी 2018 को मासिक कार्तिगाई मनाया जाएगा। कार्तिगाई दीपम पर्व को दक्षिण 

हिन्दू धर्म में दुर्गापूजा और दुर्गाष्टमी का बड़ा महत्व है। दुर्गापूजा आश्विन माह में मनाया जाता है जबकि मासिक दुर्गाष्टमी प्रत्येक माह में शुक्ल पक्ष की अष्टमी को होती है। इसे मासिक दुर्गाष्टमी 

हिन्दी धर्म के अनुसार एकादशी व्रत का अति महत्वपूर्ण स्थान है तथा प्रत्येक वर्ष में 24 एकादशी होता है जबकि अधिकमास में 26 एकादशी पड़ता है। वर्ष के प्रत्येक माह में 2 एकादशी व्रत मनाया जाता है।

वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह के दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। तदनुसार, फाल्गुन माह में शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी शुक्रवार 27 फरवरी 2018 को प्रदोष व्रत मनाया जाएगा।

27 फरवरी 2018 को है नरसिंह द्वादशी,जानिए कथा एवं इतिहास

धार्मिक मान्यताओ के अनुसार फाल्गुन में शुक्ल पक्ष की द्वादशी को नरसिंह द्वादशी मनाया जाता है। तदनुसार, गुरुवार 27 फरवरी 2018 को नरसिंह द्वादशी मनाई जाएगी